Food Delight By Foodie

Food Delight By Foodie

Menu

blog view

ध्यान दे आप अमरुद तो खाते है लेकिन इस तरीके से खाये तो दस गुना जयादा नुट्रिएंट्स मिलेंगे Benefits of Guava in Hindi

Rate this post

नमस्ते दोस्तों। अमरुद फल के रूप में बहुत नुट्रिएंट छोटा है और डायबेटिक्स पेशेंट्स के लिए तो खास। इसके बारे में और इनफार्मेशन जानते है कैसे है ये नूट्रिएटंस का खजाना।

ये बात तो सभी को पता है की अमरूद को फल के रूप में खाया जाता है और ये एक बहुत लाभकारी फल है।
इसके अलावा अमरूद की सब्जी और चटनी भी बनाई जाती है।

अमरुद विटामिन C से भरा हुआ होता है और अगर इसे अगर खाना खाने के बाद नियमित रूप से खाया जाए तो कब्ज़ की शिकायत दूर हो जाती है।
फैक्ट के अनुसार अमरूद पूरी दुनिया में भारत में ही सबसे अधिक पैदा होता है।

इसके अलावा अमरूद शरीर में होने वाले कई रोगों को समाप्त करने की क्षमता भी रखता है क्योकि इसमें रोग प्रतिरोग क्षमता होती है।

इस पोस्ट के माध्यम से आप जानेंगे कि अमरूद कौन-कौन से रोगों में लाभदायक होता है और इसे आधा क्यों नहीं खाना चाहिए या इसे हमेशा पूरा ही क्यों खाना चाहिए।

मुंह के छालों को समाप्त कर देता है Benefits of guava in Hindi

अमरूद के पत्ते भी यूस्फुल होते है, आप अगर मुंह के छालों से परेशान रहते हैं तो फिर आप अमरूद के पत्तों से इलाज कर सकते हैं।

ऐसा करने के लिए आपको अमरूद के ताजा पत्तों को एक दो दिन मुंह में रखकर चबाना होगा फिर मुंह के छाले समाप्त हो जायेंगे।

मलेरिया में लाभदायक

अमरुद आपको मलेरिया से लड़ने में भी मदद कर सकता है। मलेरिया में तेज बुखार चढ़ता है और तेज हरारत भी महसूस होती है।
इसके लिए आप एक पका हुआ अमरूद बुखार होने पर खाये। आप कमाल का आराम महसूस करेंगे और ये मलेरिया से लड़ने में बहुत हद तक आपकी मदद करेगा।

पेट का आफरा दूर करता है

अगर आपका पाचन ठीक नहीं है और आपके पेट में भारी पन रहता है तो फिर आप एक पके हुए अमरूद में काली मिर्च, सौंठ और सेंधानमक डालकर खाएं।
ऐसा करने से आपकी पाचन क्रिया मजबूत होगी।

इस बात का ध्यान दे की अमरूद को कभी भी खालीपेट नहीं खाएं। इसका सही लाभ उठाना है तो इसे हमेशा भोजन करने के बाद ही खाये और इस राम बाण का उपयोग करे।

अमरूद को पूरा खाना क्यों जरूरी है

बड़े बुजुर्गो के नसीयत में बहुत ज्ञान छिपा होता है। बड़े बुजुर्गो का कहना है की एक आदमी को एक अमरूद पूरा ही खाना चाहिए। और अगर अमरूद को काटकर एक दो भाग खाए तो पेट में दर्द होने की संभावना हो जाती हैं। इसे भी अमल किया जा सकता है।

इसका होने का कारन ये है की मन जाता है एक अमरूद में बहुत सारे बीज होते हैं और इसमें एक ऐसा बीज होता है जो इस पूरे अमरूद को पेट में जाने के बाद पचा देता है।

आपके अमरूद को चार भागो में काटने पर मानो तो चार लोगों ने अलग अलग खा लिया तो वो बीज किसके पेट में जाएगा यह पता लगाना बहुत मुश्किल हो जाएगा। थोड़ा अटपटा है पर लोग मानते है की हमेशा सभी को पूरा अमरूद ही खाना चाहिए।

पोस्ट पढ़ने के लिए दिल से बेहद शुक्रिया

तो दोस्तों आशा करता हू, कि (Benefits of guava in hindi) आपको जरूर पसंद आयी होगी. आप अपने दोस्तों के साथ और रिश्तेदारों के साथ शेयर जरूर करिये और हमे नीचे कमेंट करके जरूर बताये और अगला टॉपिक आपको किस विषय में चाहिए. वैसे हम उस विषय में पोस्ट लिखेंगे.

आपका बहुत धन्यवाद

हमारा फेसबुक पेज जरूर ज्वाइन करे : FooddelightByFoodie

ऐसी और भी खास रेसिपीज जो आप बहुत पसंद करेंगे

1 thought on “ध्यान दे आप अमरुद तो खाते है लेकिन इस तरीके से खाये तो दस गुना जयादा नुट्रिएंट्स मिलेंगे Benefits of Guava in Hindi”

Leave a Comment

इलाइची खाने के ये फायदे जानकर जो नहीं खाते वो भी खाना शुरू कर देंगे मेन्टल हेल्थ सिम्पटम्स को इग्नोर न करे, इन्हे जरूर ध्यान दे चना दाल खाने के ये फायदे जानकर जो नहीं खाते वो भी खाना शुरू कर देंगे लीची के अनोखे फायदे आपको इससे पहले नहीं पता होंगे Lichi Health Benefits ऐसे बनाये कम लागत में घर पर सेब का फेस पैक Apple Face pack ऐसे बनाये कम लागत में घर पर कुकुम्बर फेस पैक Cucumber Face pack कटरीना कौशल स्टाइल सूजी हलवा कभी चखा है Sooji Halwa Full Recipe Katrina Kaushal Style ऐसे बनाये गाजर हलवा और मेहमानो का दिल जीते Instant-Gajar-Halwa-Halwai-Style-Recipe ऐसे बनाये लौकी हलवा और मेहमानो का दिल जीते Lauki-Halwa-Recipe-How-to-make-Lauki-Halwa बच्चों को ऐसे सिखाये ड्राई फ्रूट्स के नाम कभी नहीं भूलेंगे Dry Fruits Name in Hindi & English With Photos